पागल रेबेका वोल्पेटी बीडीएसएम है जो ब्लैक टाइट्स में एक हुड वाले लड़के द्वारा उसकी तंग योनी में डाला गया है और स्ट्रैपआन के लिए ओवरसाइज़्ड जस्टिस स्ट्रैपआन. बूथू रे: अपने जुनून को चलाएं और एक Pawg के पैर के नीचे देखें!.sexytube.me स्कीनी स्टॉकुंगी सांप तेल मालिश बकवास. यह अब तक का सबसे अच्छा जन्मदिन रहा है और आप बहुत खुश हैं! सिर्फ एक सपना.liveteens.tv मैं वादा करता हूं कि मैं उससे पहले अपने बड़े डिक को चूसना अच्छा लगा. दक्षिण भारतीय फिल्म अभिनेत्री ने अपने महान शरीर के साथ प्रेमी के साथ मजा किया.myporndiary.net बिग टिट गोरा एमआईएलएफ़ कैटरीना हार्टलोवा एक सोफे पर एक बड़ा कठिन डिक सवारी करता है.gynocams.tv क्या कर्म मलबे 2 सफेद गुड़िया संभोग करेगा.xhamster.com
conservatoire national des archives et de l'histoire de l'éducation spécialisée et de l'action sociale

LE QUARTIER PICASSIETTE

Un essai de transformation sociale à Chartres

 

 

La cité de transit construite en 1954 sur les Hauts-de-Chartres, est une cité provisoire, une cité ghetto, faite pour durer. Raymond Isidore dit Picassiette, le balayeur du cimetière, ramasse les choses jetées, les morceaux de verre et d’assiettes dont il couvre sa maison : il devient mosaïste. Cet architecte singulier donne à Patrick Macquaire, chargé d’accompagner la réhabilitation du quartier, la matière d’une construction particulière, celle d’une Régie de quartier, cheville ouvrière d’une reconstruction des associations et des habitants. Les balayeurs deviennent alors des artistes, des mosaïstes.

Préface Pascal Lerest

Éditions L’Harmattan. Date de publication : janvier 2009

Patrick Macquaire est éducateur spécialisé, ethnologue formée à L’EHESS Paris. Directeur, à Chartres, d’un Centre social et d’une Régie de quartier, il s’est principalement consacré à la mise en œuvre d’opérations de développement social urbain.